एनजीओ परामर्श सेवा क्या है?

गैर सरकारी संगठन परामर्श सेवा अथवा सलाहकार सेवा केंद्र गैर-सरकारी संगठनों (एनजीओ) को दुनिया भर में सलाह, प्रशिक्षण और समाधान प्रदान करवाता है. कंसल्टेंसी सेवाओं में रजिस्ट्रेशन, मूल्यांकन, कानूनी सलाह, परियोजना और संगठनात्मक संरचना सलाह परामर्श सेवाएं शामिल हैं. गैर सरकारी संगठन तैयार है या सेवाओं के लिए भुगतान करने में सक्षम है, तो वे दोनों राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय गैर सरकारी संगठनों, के लिए प्रस्ताव पर हैं. एनजीओ परामर्श सेवा का संचालन अनुभवी लोगों द्वारा किया जाता है जो गैर-सरकारी संगठनों को विकास की दुनिया में आगे बढ़ने के लिए सेवाएँ प्रदान करते है.
गैर सरकारी संगठनों का गठन विभिन्न प्रकार के कारणों और प्रकार पर आधारित होता है. इनका गठन सामाजिक विकास और अन्य उद्देश्यों के लिए किया जाता है, जो लंबे समय तक या कम अवधि की परियोजनाओं पर आधारित हो सकते है. वे सरकारी विभागों जा रहा है और स्वतंत्र, लाभ संचालित व्यवसायों होने के बीच एक मध्य क्षेत्र में आते हैं. गैर सरकारी संगठनों (एनजीओ) के गठन, संचालन, अनुदान प्राप्त करने में सहयोग, प्रबधन और संचालन, परियोजनाओं के क्रियान्वन से सम्बंधित परामर्श सेवाओं के लिए एनजीओ कंसल्टेंसी का कार्य होता है. गैर सरकारी संगठन परामर्श सेवा केंद्र (NGO Consultancy) को चार क्षेत्रों में विभाजित किया जा सकता है: संगठन, प्रशिक्षण, वित्त और परियोजना प्रबंधन.
गैर सरकारी संगठन परामर्श सेवा केंद्र नए गैर सरकारी संगठनों को संगठनात्मक सलाह और सहायता के स्वाभाविक उद्देश्य के लिए होता है, लेकिन यह गैर सरकारी संगठनों को और अधिक कुशलता से कार्य करने के लिए सेवाएं देकर प्रभावी भूमिका का निर्वहन करता है. गैर सरकारी संगठन परामर्श सेवा केंद्र का कार्य यह सुनिश्चित करना है कि गैर सरकारी संगठन के कार्यों का संचालन सही हो रहा है और जिन उद्देश्यों के लिए एनजीओ का गठन किया गया है उन्हें कैसे प्राप्त करें. गैर-सरकारी संगठन परामर्श सेवा केंद्र एनजीओ के लक्ष्य और उद्देश्य पर ध्यान केंद्रित कर उनकी मदद करता है और अपनी सेवाएं प्रदान करता है. परामर्शी सेवा केंद्र द्वारा अन्य संगठनात्मक मदद की पेशकश, क्षमता निर्माण, आर्थिक विकास योजना और संगठनात्मक संस्कृति विकास के कार्य और सेवाएं भी प्रदान की जाती है.
प्रशिक्षण सलाह सेवा एनजीओ को कई प्रकार से दी जा सकती है. इनमें संस्थान के लिए अनुदान की व्यवस्था, प्रबंधन, संचालन और संस्थान कर्मियों के प्रशिक्षण शामिल है. प्रशिक्षण योजनाओं में संस्थान के के लिए संसाधन और अनुदान जुटाने के तरीके और निर्धारित रणनीति की दिशा में आगे ले जाने के लिए जन सहयों और नेटवर्किंग विकसित करने में भी परामर्श सेवा केंद्र मदद करता है.